Aesthetic Blasphemy

a million little things...

Link to Cradling the inner child.
Cradling the inner child.

अजीब है यह मन | कितना भटकता है | अगर चलने के लिए दो पैर दे दूं तो न जाने कितने ब्रह्मांड टाप जाए| इतनी चंचलता है...

Posted on: Feb. 6, 2014 Read More