Aesthetic Blasphemy

a million little things...

Link to The canvas of soot burns (Hindi)
The canvas of soot burns (Hindi)

आज यों ही पूजा का दिया जलाते हुए बचपन में दिए जलाना याद आ गया | छोटी उम्र में कोई कितना जिज्ञासु या शरारती रहा होगा,...

Posted on: Feb. 20, 2014 Read More
Link to Dinner Musings
Dinner Musings

आज यों ही याद आ गया कि यदि भोजन हाथों की अंगुलियों से किया जाए तो क्षुधा जल्दी शांत होती है, तृप्ति हो जाती है | कहते...

Posted on: Feb. 12, 2014 Read More